KYC Ka Full Form in Hindi | KYC Meaning in Hindi

हेलो दोस्तों, आज हम बात करेंगे KYC Ka Full Form in Hindi, KYC Meaning in Hindi, KYC ka Full form kya hota hai. के बारे में। आपने इस शब्द को कहीं ना कहीं जरूर सुना होगा। पर आपको KYC Ka full form kya hota hai, KYC Ka Matlab Kya Hota Hai, शायद ही पता होगा।

KYC Ka Full Form in Hindi
KYC Ka Full Form in Hindi | KYC Meaning in Hindi

तो आज के इस आर्टिकल में हम आपको KYC की पूरी जानकारी देने की कोशिश करेंगे, इस आर्टिकल के बाद आपको KYC का मतलब अच्छे से समझ में आ जाएगा। तो चलिए शुरू करते हैं और जानते हैं KYC Ka Full Form in Hindi, KYC Meaning in Hindi, KYC ka Full form kya hota hai.

KYC Ka Full Form in Hindi

KYC का मतलब जाने से पहले हमें KYC ka full form kya hota hai. यह जान लेना चाहिए, ताकि हम आगे KYC Meaning in Hindi अच्छे से समझ सके। तो KYC का फुल फॉर्म होता है –>

KYC Full Form in English –> Know Your Customer

KYC Ka Full Form in Hindi–> अपने कस्टमर को जानना

हमें KYC का कोई ऑफिशियल फुल फॉर्म हिंदी में तो नहीं पता, लेकिन हिंदी अनुवाद में Know Your Customer का अर्थ अपने कस्टमर को जानना होगा।

इसे भी पढ़े – BCA Full Form in Hindi | BCA क्या होता है, Salary, Eligibility, Opportunity 2022

KYC Meaning in Hindi – KYC का क्या मतलब होता है ?

KYC Hindi Meaning – KYC का मतलब होता है Know Your Customer यानी अपने कस्टमर को जानना। जब कभी भी किसी बैंक में अथवा किसी ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर पैसों का लेनदेन करने के लिए अकाउंट खुलवाते हैं, तब वहां पर आपसे KYC करने को कहा जाता है।

KYC करने के लिए वह आपसे कुछ डॉक्यूमेंट मांगते हैं जैसे कि – आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस आदि। इनमें से आप कोई भी दो चीज उनको दे सकते हैं, इन सभी डॉक्यूमेंट की मदद से वह आपका आईडेंटिटी वेरीफाई, और एड्रेस वेरिफिकेशन करते हैं।

RBI कि गाइडलाइन के द्वारा KYC करना सभी फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशन के लिए जरूरी है। तो हमने KYC Hindi Meaning जान लिया।

KYC करना क्यों जरुरी है ?

KYC सभी फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशन और ग्राहक दोनों के लिए ही बहुत जरूरी है। KYC करने से बैंक को यह सुनिश्चित होता है कि जो बैंक में खाता खुलवा रहा है वह एक रियल बंदा है। और इससे फ्रॉड होने के चांसेस भी बहुत कम हो जाते हैं।

KYC के जरिए वे सभी कस्टमर की फेस वेरिफिकेशन, आईडेंटिटी वेरीफिकेशन, वह ऐड्रेस वेरीफिकेशन सही ढंग से कर पाते हैं।

RBI के गाइडलाइन के तहत सभी बैंकिंग इंस्टीट्यूशन को KYC करना और साथ ही साथ KYC को अपडेट करना भी अनिवार्य है। यदि कोई बैंक कस्टमर की KYC को टाइम टू टाइम अपडेट नहीं करता तो उन पर बड़ी पेनल्टी भी लग सकती है।

इसे भी पढ़े – BT का मतलब क्या होता है – BT Full Form in Hindi (MTV Hustle, Rap, Instagram)

KYC कहा कहा जरुरी है ?

ज्यादातर फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशन, या फिर कह सकते हैं बैंकिंग सेक्टर में KYC करवाना अनिवार्य है। बिना KYC के आप किसी भी बैंक में अपना खाता नहीं खुलवा सकते। यहां तक कि सभी ऑनलाइन बैंकिंग एप जैसे – Paytm, Phonepay, Google Pay, Amazon Pay, जिन पर भी ऑनलाइन पैसों का लेनदेन होता है उन सभी एप्लीकेशंस पर KYC करवाना जरूरी है, तभी आप इन सभी एप्लीकेशंस का सही ढंग से इस्तेमाल कर पाओगे।

KYC में किन डॉक्यूमेंट की जरूरत होती हो ?

KYC करवाने के लिए कुछ सरकारी डॉक्यूमेंट की जरूरत पड़ती है, हालांकि केवाईसी करवाते वक्त आपको सभी डॉक्यूमेंट ले जाने की जरूरत नहीं है, आप इन सभी डॉक्यूमेंट में से किन्ही दो डॉक्यूमेंट का इस्तेमाल करके भी अपनी केवाईसी करवा सकते हो।

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • वोटर आईडी कार्ड
  • ड्राइविंग लाइसेंस

ज्यादातर जगह इन चार डॉक्यूमेंट में से किन्ही दो डॉक्यूमेंट से ही काम चल सकता है, लेकिन हो सकता है किसी किसी जगह आपको अन्य डाक्यूमेंट्स की जरूरत भी पड़ जाए।

इसे भी पढ़े – हॉस्पिटल वार्ड बॉय की नौकरी कैसे ले – Salary, Vacancy, Qualification, सम्पूर्ण जानकारी 2022

eKYC Kya Hai – eKYC Ka Matlab – eKYC Full Form

eKYC का फुल फॉर्म होता है Electronic KYC. आजकल भारत बहुत एडवांस हो चुका है ऐसे में जब आप बिना किसी फिजिकल डॉक्यूमेंट के KYC इलेक्ट्रॉनिकली करवाते हैं तब उसे eKYC कहते हैं।

eKYC Kaise Hota Hai – KYC ka Full form kya hota hai

KYC ka Full form kya hota hai – जैसा कि आज के टाइम पर हर किसी के पास आधार कार्ड मौजूद है, आधार कार्ड एक ऐसा डॉक्यूमेंट है जिसमें आपके बारे में सारी डिटेल होती है। और आप इस आधार कार्ड का इस्तेमाल आधार ऑथेंटिकेशन के द्वारा KYC करने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। जिसमें आपको किसी भी प्रकार का कोई डॉक्यूमेंट देने की जरूरत नहीं होती, ना ही कोई साइन करने की जरूरत होती है।

आपका पूरा आइडेंटिटी वेरीफिकेशन इलेक्ट्रॉनिकली अंगूठे की मदद से हो जाता है, जहां भी आप eKYC करवाते हैं उनके पास एक डिवाइस होता है जहां पर अगर आप अंगूठा लगाते हैं, तो आप के आधार से उनके पास आपकी सारी डिटेल आ जाती है।

eKYC के फायदे

eKYC के काफी फायदे हैं जैसे :- KYC ka Full form kya hota hai

  • इसमें आपको किसी प्रकार की कोई फिजिकल डॉक्यूमेंट की जरूरत नहीं होती।
  • यह एक बहुत तेज प्रक्रिया है।
  • eKYC के जरिए काम बहुत आसान हो जाता है।
  • इकोनॉमिकल है पेपर बचता है।
  • काफी तेज और सुरक्षित है।

इसे भी पढ़े – UPI Full Form in Hindi – UPI Meaning in Hindi

Conclusion

आज के इस आर्टिकल में हमने पढ़ा KYC Ka Full Form in Hindi, KYC Meaning in Hindi, KYC ka Full form kya hota hai और भी बहुत कुछ और उम्मीद करता हूं आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा। और आप जिस जानकारी को खोजते हुए इस आर्टिकल में आए थे वह जानकारी आपको मिल गई होगी।

अगर इस आर्टिकल में आपको किसी भी प्रकार की गलती नजर आती है, या आपको कोई चीज समझ नहीं आता तो हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं। हम आपके कमेंट का 24 घंटे के अंदर रिप्लाई देने की कोशिश करेंगे। धन्यवाद।

THANK YOU FOR GIVING YOUR PRECIOUS TIME 🙂

Frequently Asked Questions

KYC ka Full form kya hota hai ?

KYC ka Full form “Know Your Customer” Hota Hai.

eKYC ka Full form kya hota hai ?

eKYC Ka full Form hota hai “Electronic KYC”

KYC का क्या मतलब होता है ?

KYC का मतलब होता है नो योर कस्टमर, KYC की जरूरत आपको सभी फाइनेंशियल इंस्टिट्यूशन, जैसे कि बैंक में होती है। KYC के जरिए वह आपकी आईडेंटिटी वेरीफिकेशन करते हैं, जिससे पता चलता है कि आप एक रियल बंदे हैं, और इससे फ्यूचर में फ्रॉड होने के चांस भी कम हो जाते हैं।

KYC Full Form in Hindi ?

KYC का हिंदी में फुल फॉर्म होता है ” नो योर कस्टमर”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top